spot_img
spot_img

साइबर क्रिमिनल्स ने धोनी और सचिन जैसे मशहूर हस्तियों के पैन कार्ड डाटा यूज़ करके कर दी 50 लाख की ठगी, खुद को कैसे बचाए

क्रिकेटवॉच का ग्रुप अभी ज्वाइन करें
Join Now
क्रिकेटवॉच का ग्रुप ज्वाइन करें
Join Now

एक सनसनीखेज खुलासे में यह सामने आया है कि साइबर क्रिमिनल्स ने मशहूर हस्तियों जिनमें सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी, रितिक रोशन, अभिषेक बच्चन, माधुरी दीक्षितभी शामिल है, उनके फर्जी पैन कार्ड और आधार कार्ड का इस्तेमाल करके 50 लाख की साइबर ठगी की है।

पुलिस रिपोर्ट के अनुसार, जालसाजों के एक समूह ने कथित तौर पर बॉलीवुड अभिनेताओं और क्रिकेटरों के ऑनलाइन उपलब्ध GST से पैन विवरण प्राप्त किया, और पुणे स्थित फिनटेक स्टार्टअप ‘वन कार्ड’ से उनके नाम पर क्रेडिट कार्ड प्राप्त कर लिया।

पुलिस की मानें तो “आरोपीयों ने कथित तौर पर एमएस धोनी, अभिषेक बच्चन, सोनम कपूर, सचिन तेंदुलकर, सैफ अली खान, ऋतिक रोशन, आलिया भट्ट, शिल्पा शेट्टी, इमरान हाशमी और अन्य मशहूर हस्तियों के विवरण का उपयोग करके 50 लाख रुपये से अधिक की धोखाधड़ी की।”

आखिर कैसे हुआ यह फ्रॉड?

जालसाजों ने पहले गूगल से जीएसटी विवरण और मशहूर हस्तियों की जन्मतिथि हासिल की। जीएसटीआईएन के पहले दो अंक राज्य के कोड होते हैं और अगले 10 अंक पैन नंबर हैं।
इन दो विवरणों को प्राप्त करने के बाद, उन्होंने धोखे से उस पर अपनी तस्वीर लगाकर नए पैन कार्ड के लिए आवेदन किया ताकि वीडियो सत्यापन के दौरान उनका लुक पैन/आधार कार्ड पर उपलब्ध फोटो से मेल खा सके।

ये भी पढ़ें : WPL से पहले पूर्व कप्तान मिताली राज का वीडियो सोशल मीडिया पे हो रहा है वायरल, वीडियो यहां देखें

उदाहरण के लिए, महेंद्र सिंह धोनी के पैन कार्ड में उनका पैन और जन्मतिथि थी, लेकिन आरोपियों में से एक की तस्वीर थी। इसी तरह, उन्होंने आधार विवरण में फर्जीवाड़ा करने के लिए भी यही प्रक्रिया अपनाई। नया पैन और आधार मिलने के बाद जालसाजों ने पुणे स्थित फिनटेक स्टार्टअप ‘वन कार्ड’ से नए क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन किया।

ऐसे फ्रॉड से खुद को कैसे बचाएं ?

1. आपके द्वारा नहीं किए गए किसी भी लेन-देन को जानने या रिपोर्ट करने के लिए अपना सिबिल स्कोर और आयकर फॉर्म 26ए नियमित अंतराल पर जांचते रहे ।

2. पैन कार्ड का उपयोग केवल वहीं करें जहां इसकी आवश्यकता है। इसके बजाय ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता पहचान पत्र और आधार कार्ड जैसे अन्य पहचान दस्तावेजों का उपयोग करें।

3. किसी भी असुरक्षित ऑनलाइन पोर्टल पर अपनी जन्मतिथि दर्ज न करें। इस जानकारी का उपयोग करके आयकर विभाग की वेबसाइट से आपके पैन नंबर का पता लगाया जा सकता है।

4. आपके द्वारा उपयोग किया जा रहा वेबसाइट सुरक्षित है या नहीं, यह जानने के लिए हमेशा url में https की जांच करें।

5. पैन की डुप्लीकेट/जेरॉक्स कॉपी जमा करते समय, अपने हस्ताक्षर के साथ तारीख लिखें और जमा करने के पीछे का कारण भी लिखें।

6. आप अपने बैंक से आधार को डिलिंक भी करा सकते हैं, क्युकी अब इसकी अनिवार्यता समाप्त कर दी गई है ।

न्यूज सोर्स : PTI

क्रिकेटवॉच का ग्रुप ज्वाइन करें
Join Now
अभिषेक कुमार
अभिषेक कुमारhttps://cricketwatch.co.in
नमस्ते दोस्तों, मेरा नाम अभिषेक कुमार है और मैं बचपन से ही क्रिकेट के तरफ काफी आकर्षित रहा हूँ और उसी पैशन को मैं इस वेबसाइट के माध्यम से आप सभी तक पहुँचाने का प्रयास कर रहा हूँ। आशा करता हूँ की आपको मेरे वेबसाइट पे उपयोगी, रोचक और बेहतरीन जानकारियां मिली होंगी। cricketwatch | क्रिकेटवॉच

Related Articles

हॉट पिक्स

- Advertisement - spot_img

Latest Articles